उत्तर प्रदेश के हाथरस में खेतों में काम करवा रहे किसान की गोली मारकर हत्या कर दी गई। मिली जानकारी के अनुसार हत्यारोपी किसान और उसके परिवार पर छेड़छाड़ के मुकदमे को वापस लेने का दबाव बना रहे थे। ऐसा ना करने के कारण आरोपियों ने किसान की गोली मारकर हत्या कर दी। किसान की हत्या के बाद उसकी बेटी ने नामजद आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई है।

मृतक किसान की बेटी का कहना है कि आरोपी ने छेड़छाड़ का मुकदमा वापस न लेने के कारण उसके पिता की हत्या की है। बता दें कि हाथरस के सासनी थाना क्षेत्र के नोजरपुर गांव में अपने खेतों में आलू की खुदाई करवा रहे किसान अमरीश की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी गई। मृतक की पुत्री ने चार नामजद लोगों के साथ 6 लोगों के खिलाफ एफ आई आर दर्ज करवाई है।

अमिता की पुत्री का कहना है कि वह जब अपने पिता को खेत में खाना देने गई तब कार सवार हत्यारोपियों ने उसके पिता की ताबड़तोड़ गोली मार दिया, जिसके बाद घायल को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी मौत हो गई। मृतक किसान अमरीश की पुत्री ने बताया कि 2018 में आरोपियों ने उनके घर में घुसकर छेड़छाड़ की थी।

जिसका मुकदमा चल रहा था। आरोपी लगातार किसान और उसके परिवार पर मुकदमा वापस लेने का दबाव बना रहे थे और ऐसा न करने के कारण आरोपियों ने किसान की गोली मारकर हत्या कर दी। मृतक की पुत्री ने गौरव शर्मा, रोहताश शर्मा, ललित शर्मा और निखिल शर्मा सहित दो अन्य के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करवाया है।

मृतक की पुत्री ने बताया कि आरोपी राजनीतिक रसूख रखते हैं और इलाके में दबंग किस्म के इंसान हैं। इन्होंने इससे पहले कई बार मुकदमा वापस लेने के लिए किसान और उसके परिवार को धमकी दी थी। मामले के संबंध में संज्ञान लेते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आरोपियों के खिलाफ एनएसए लगाकर कार्रवाई करने का आदेश दे दिया है। पुलिस ने मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?