पुलिस महानिदेशक हरियाणा के आदेशानुसार, फरीदाबाद पुलिस द्वारा विभिन्न केसों में बरामद मादक पदार्थ को पुलिस आयुक्त श्री ओ पी सिंह की देखरेख में नष्ट किया गया।

जिला फरीदाबाद में गठित ड्रग डिस्पोजल कमेटी के चेयरमैन पुलिस आयुक्त श्री ओ पी सिंह व दोनों मेंबर पुलिस आयुक्त डॉक्टर अर्पित जैन, सहायक पुलिस आयुक्त सुमेर सिंह के साथ गवाह के तौर पर समाज के गणमान्य व्यक्तियों में जसाना गांव के श्री सुंदर पुत्र भीमसिंह व सेक्टर 28 निवासी श्री अरविंद पुत्र श्री ऋषिपाल की मौजूदगी में गोल्डन ईगल वेस्ट मैनेजमेंट कंपनी तिगांव रोड गांव जसाना फरीदाबाद में विभिन्न थानों के 108 मुकदमों में बरामद मादक पदार्थों को अपनी देखरेख में फोटोग्राफी करवा कर सुरक्षित तरीके से नष्ट किया गया।

पुलिस आयुक्त श्री ओपी सिंह (कमेटी चेयरमेन) की अध्यक्षता में नष्ट किए गए विभिन्न थानों के 108 मुकदमों में बरामद मादक पदार्थ इस प्रकार हैः-

गांजा वजन-215.790 किलोग्राम
भांग-113.860kg
ब्राउन शुगर-3.980kg
सुल्फा-2.832kg800mg
स्मैक -54.867 किलोग्राम
हीरोइन-220 ग्राम
चरस-6.96 किलोग्राम
इंजेक्शन-339
गोलियां-39
कैप्सूल-70086

उन्होंने बताया कि उपरोक्त सभी मादक पदार्थों को प्रक्रिया के तहत आग लगा कर नष्ट किया गया है। श्री ओपी सिंह ने कहा की नशीले पदार्थ मनुष्य के शरीर के साथ-साथ उसको मानसिक रूप से भी अपाहिज बना देते हैं इसीलिए नागरिक नशे से दूर रहकर समाज कल्याण में अपना योगदान दे।उन्होंने कहा कि कुछ लोग गलत संगत में पड़कर या शौकिया तौर पर नशे का सेवन शुरू करते हैं।

परंतु बाद में उन्हें इसकी लत लग जाती है जिसके पश्चात इसकी आदत छोड़ना बहुत मुश्किल हो जाता है इसीलिए पहले दिन से ही इससे दूर रहना चाहिए ताकि आपके आने वाले भविष्य को नशे से दूर रख कर उज्जवल बनाया जा सके। पुलिस आयुक्त ने बताया कि नशा बर्बादी का घर है और ऐसी गलियों से गुजरना बहुत खतरनाक साबित हो सकता है इसलिए ऐसी गलियों से बचें और अपनी ऊर्जा को सकारात्मक दिशा में लगाकर जीवन रूपी हाईवे पर अपनी गाड़ी दौड़ाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?