उत्तर प्रदेश के बागपत जिले की एक 8 साल की बच्ची ने अपनी प्रतिभा से लोगों को हैरान कर दिया है। दरअसल अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर बागपत में चल रहे कार्यक्रम के दौरान बागपत के सांसद डॉक्टर सत्यपाल सिंह, शूटर दादी चंद्रो और प्रकाशो तोमर सहित जिले के तमाम आला अधिकारी मौजूद थे। बागपत जिले के कलेक्ट्रेट के लोक मंच हॉल में चल रहे इस कार्यक्रम के दौरान महिलाओं का सम्मान किया गया। इस दौरान एक 8 साल की बच्ची वैष्णवी ने अपने आत्मविश्वास से सभी को अचंभित कर दिया।

दरअसल अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर बागपत जिले की 8 साल की बच्ची वैष्णवी ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की शपथ हॉल में मौजूद सभी अतिथियों को दिलाई। साथ ही इस बच्ची ने मंच से अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस का महत्व और इसके शुरुआत का इतिहास भी बताया। वैष्णवी के आत्म विश्वास को देखते हुए हॉल में मौजूद अतिथियों ने तालियों की गड़गड़ाहट के साथ उसकी हौसला अफजाई की।

जब मंच पर यह 8 साल की बच्ची अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के इतिहास के बारे में बताने के लिए पहुंची और उसने माइक थामा तो लोगों को लगा कि यह बच्ची कुछ ही समय में अपनी बातों को पूरा करेगी और रटे रटाए काम को संपन्न करेगी, लेकिन उस 8 साल के बच्ची का आत्मविश्वास देख हॉल में मौजूद सभी लोग अचंभित रह गए।

बता दे कि वैष्णवी ने सबसे पहले मंच पर मौजूद सभी लोगों का अभिवादन करते हुए अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की महत्ता और उसके इतिहास के बारे में बताया। इसके बाद उसने हॉल में मौजूद सभी को ‘बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ’ अभियान की शपथ दिलाई। इस दौरान बागपत के सांसद डॉक्टर सत्यपाल सिंह शूटर दादी चंद्रो और प्रकाशो तोमर ने भी बच्ची की जमकर सराहना की।

बता दें कि इस कार्यक्रम में शूटर दादी चंद्रो और प्रकाशो तोमर सहित कई महिलाओं का सम्मान किया गया। इस दौरान सांसद डॉक्टर सत्यपाल सिंह ने कहा कि आज मैं जहां भी खड़ा हूं वहां अपनी मां की बदौलत हूं। बेटी और बेटे में आप कभी अंतर ना समझे, बस बच्चों को संस्कारवान बनाएं। इस दौरान सांसद ने कहा कि अब बागपत में मुंबई महोत्सव की तर्ज पर बागपत महोत्सव भी करवाया जाएगा।

उन्होंने बागपत के जिलाधिकारी राजकमल यादव के ‘बेमिसाल बागपत, अद्वितीय नारी’ अभियान की जमकर सराहना की और कहा कि सभी मिलकर बागपत को बेमिसाल बनाएंगे। ‘बेमिसाल बागपत, अद्वितीय नारी’ अभियान के बारे में जानकारी देते हुए जिलाधिकारी राजकमल यादव ने कहा कि बागपत की 51 महिलाओं के संघर्ष और उनके मिसाल बनने की कहानी को इसके तहत दुनिया जानेगी और 1162 कहानियों से देश की बेटियों का हौसला बढ़ेगा। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ भी मदद कर रहे हैं तथा इस मिशन को आगे बढ़ा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?