kisan leader

अलीगढ़ पहुंचे किसान नेता(kisan leader) और भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने केन्द्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि केंद्र सरकार पर बड़ी कम्पनियां हावी है, जिसके चलते सरकार का देश को बेचने का प्लान है। आने वाले समय में किसान की जमीनें भी छीन ली जायेगी। बता दें कि अलीगढ़ जिले के टप्पल क्षेत्र के गांव नूरपुर में विजय तालान के फार्म हाउस पर आयोजित एक बैठक में किसानों से वार्ता करने के बाद पत्रकारों से वार्ता करते हुये किसान नेता (kisan leader) टिकैत ने कहा कि वह वहां ग्राउण्ड रिपोर्ट देखने आये थे।

किसान आन्दोलन के तहत कृषि कानूनों के विरोध में वह देश के विभिन्न राज्यों का दौरा कर रहे हैं जो अगले माह दस तारीख तक चलेगा। यहां गेहूॅ की खरीद एमएसपी के तहत हो रही है या नहीं। यदि एमएसपी पर खरीद नहीं हो रही है, तो किसान अपना गेहूॅ थाने, डीएम या एसडीएम के यहां लेकर पहुंचे। ज्यादा हो तो दिल्ली ससंद पहुंचे जहां अम्बानी व अडानी की मण्डी खुली हुई हैं। दिल्ली में पक्के मकान बनाने पर दर्ज मुकद्दमें के मामले में कहा कि तीन माह से सरकार बात नहीं मान रही है और किसान सड़कों पर आन्दोलन कर रहा है। रहने को मकान तो चाहिए, इसलिये पक्के मकान बनाये जा रहे हैं। यह किसान आन्दोलन लम्बा चलेगा, देश को आजाद होने में 90 साल लगे थे। यह सरकार भी नहीं रहेगी।

इस दौरान राकेश टिकैत (kisan leader) ने कहा कि बंगाल में चुनाव है इसलिये वह भाजपा का प्रचार करने नहीं गये थे बल्कि वहां के किसानों को जागरूक करने गये थे। पत्रकारों को राकेश टिकैत ने कहा कि वह राजस्थान, उड़ीसा, कर्नाटक और हरियाणा होते हुये दस अप्रैल को दिल्ली पहुंचेंगे। सरकार द्वारा लाये गये तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसानों को जागरूक करने के लिये भ्रमण कर रहे हैं। गौरतलब है कि इन दिनों किसान नेता राकेश टिकैत लगातार किसान महापंचायतों में पहुंच किसानों से संवाद स्थापित कर रहे हैं। इसी क्रम में बंगाल में भी पहुंचे थे। जहां नंदीग्राम में आयोजित एक किसान महापंचायत में उन्होंने किसानों से बीजेपी के पक्ष में वोट डालने की अपील की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?