सिटी बल्लभगढ़ पुलिस टीम ने ऑनर किलिंग मामले में तुरंत कार्रवाई करते हुए दो आरोपियों को काबू करने में सफलता हासिल हुई है।आरोपियों की पहचान सोहन पाल एवं शिवकुमार निवासी मुकेश कॉलोनी बल्लभगढ़ के रूप में हुई है। शिकायतकर्ता सागर ने पुलिस को बताया कि वह और मृतक कोमल कॉलेज के दिनों से ही एक दूसरे को पसंद करते थे और इसी के चलते हैं उन्होंने 8 फरवरी 2021 को मंदिर में शादी कर ली थी। जब शादी के बारे में कोमल ने अपने परिवार को बताया तो उन्हें यह बात पसंद नहीं आई जिसके बाद उन्होंने इस मामले में कोर्ट की शरण ली। जिसके बाद पुलिस ने उन्हें सुरक्षा मुहैया कराई।

इसी बीच कोमल के परिजनों ने आश्वासन दिया कि अब उन्हें इस रिश्ते से कोई परेशानी नहीं और इसी के तहत उन्होंने 19 फरवरी को कोमल और सागर की सगाई कर दी। कोमल के पति सागर ने बताया कि इस दौरान कोमल के परिजन उसे अपने साथ अपने घर ले गए।कोमल ने उसे फोन कर बताया कि उसके परिजन अभी भी इस शादी से खुश नहीं है। 18 मार्च को कोमल की एक सहेली ने सागर को फोन कर सूचित किया कि कोमल ने सुसाइड कर लिया है और उसका शव उसके गांव में जला भी दिया गया है।

इस सूचना की जानकारी सागर ने अपने माता पिता को दी सागर के माता-पिता ने कोमल के घर जाकर देखा तो घर पर ताला लगा हुआ था पड़ोसियों से पता चला कि वह अपने गांव चले गए है। जिसके बाद वह अपने परिवार के साथ कोमल के पैतृक गांव सहरोला पहुंचे जहां उन्हें बताया गया कि कोमल ने सुसाइड कर लिया है। शिकायतकर्ता सागर की सूचना पर पुलिस ने लड़की के पिता सोहनपाल और लड़की के चाचा शिव कुमार के खिलाफ हत्या की धाराओं के तहत मामला दर्ज कर आरोपियों की धरपकड़ के लिए टीम गठित कर दी थी।

टीम ने तत्परता से कार्रवाई करते हुए लड़की के पिता सोहनपाल और चाचा शिवकुमार को धर दबोचने में कामयाबी हासिल हुई। एसएचओ सिटी बल्लभगढ़ सुदीप ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपियों से पूछताछ के दौरान सामने आया कि साजिश में शामिल चाचा शिवकुमार ने लड़की की गला दबाकर हत्या की थी। लड़की के पिता सोहनपाल जीआरपी में सब इंस्पेक्टर के पद पर तैनात हैं जबकि लड़की के चाचा शिवकुमार सिपाही के पद पर तैनात हैं। थाना प्रभारी ने बताया कि कल आरोपियों को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लेकर मामले में गहनता से पूछताछ की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?