shaheed sandeep singh

हरियाणा सरकार के पूर्व मंत्री विपुल गोयल और स्थानीय विधायक नयनपाल रावत ने गांव अटाली की सरदारी के साथ मिलकर सभी ग्रामवासियों कि मौजूदगी मे शौर्य चक्र विजेता शहीद संदीप सिंह (Shaheed Sandeep Singh) की मूर्ति को उनके पैतृक गांव मे स्टेडियम के अंदर स्थापित किया। आपको यहाँ बता दें कि 33 साल के संदीप साल 2005 मे सेना के अंदर 10 पैरा कमांडों में भर्ती हुए थे और 11 फरवरी 2019 को पुलवामा में आतंकी मुठभेड़ में घायल हुए और मौत से लड़ते हुए भारत माता की रक्षा में वीरगति को प्राप्त हुए थे।

दिनांक 20 फरवरी 2019 को उनके पैतृक गांव अटाली में पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया था। दयालपुर गांव की गीता से उनकी शादी हुई थी, शहीद संदीप (Shaheed Sandeep Singh) के 3 बच्चे हैं, उनके पिता नयनपाल कृषक और माता केसर गृहिणी हैं। अभी हाल ही में गणतंत्र दिवस के उपलक्ष पर विपुल गोयल ग्राम अटाली मे ध्वजारोहण के कार्यक्रम में आमंत्रित किये गए थे। कार्यक्रम के बाद गोयल द्वारा शहीद परिवार से मुलाकात कर कुशलक्षेम जाना और मुलाकात के दौरान पता लगा की लगभग दो वर्ष के बीत जाने के बाद भी गांव में अभी तक शहीद की प्रतिमा स्थापित नहीं की गई है।

जिससे आहत होकर गोयल ने शोकाकुल परिवार से वादा किया की आने वाले 23 मार्च को शहीदी दिवस के दिन हमारे देश के वीर शहीद जवान संदीप की प्रतिमा गांव के अंदर स्टेडियम में सभी ग्राम वासियों और जिला प्रशासन की मौजूदगी में सम्मान के साथ स्थापित की जाएगी और बहुत जल्दी गांव के स्टेडियम को आधुनिक तरीके से निर्माण किया जाएगा और स्टेडियम का नाम भी शहीद संदीप (Shaheed Sandeep Simgh) के नाम पर रखा जाएगा ।आज मूर्ति स्थापना करने पर शहीद परिवार और गांव कि सरदारी ने विपुल गोयल और विधायक नयनपाल रावत का धन्यवाद करते हुए कहा की शहीद संदीप की प्रतिमा गांव के युवाओं में जोश और प्रेरणा का संचार करेगी।

इस दौरान शोकाकुल परिवार और कार्यक्रम् मे मौजूद सभी लोगों कि आंखें नम नजर आई और सभी लोगों ने शहीद को याद्कर् भावभीनी श्रद्धांजलि दी। इस दोरान् पुलवामा में हुए हमले के दौरान जहां संदीप (Shaheed Sandeep Singh) ने दो आतंकियों को मार गिराया था और अपने साथी की जान बचाते हुए देश के लिए अपनी शहादत दे दी थी । जिस सिपाही की जान उन्होंने बचाई थी वह भी कार्यक्रम के दौरान मौजूद रहे और पैरा कमांडो की पूरी टीम जो उस ऑपरेशन के दौरान थी, उस टीम सदस्य भी कार्यक्रम में मौजूद रहे। गोयल ने इस अवसर पर कहा कि हमारे देश के गौरव और क्षेत्र का नाम रोशन करने वाले वीर नायक हवलदार शहीद संदीप सिंह का बलिदान देश हमेशा याद रखेगा ओर् बच्चा बच्चा उनके बलिदान का ऋणी रहेगा। गोयल ने शोकाकुल परिवार से कहा कि वह भी आपके परिवार का एक सदस्य हैं, उन्होंने भी अपना भाई खोया है उसकी कमी जीवन में कोई पूरी नहीं कर सकता लेकिन हमारा बेटा संदीप देश के लिए शहीद हुआ है और देश उनकी शहादत हमेशा याद रखेगा ।

यह बलिदान और संघर्ष हमारे हिंदुस्तान की माटी की शान हैं और संदीप ने उस पहचान और शान् को देश में ही नहीं पूरे विश्व में बता दिया कि यह हिंदुस्तान का खून है, जो शहीद तो हो सकता है लेकिन दुश्मनों को देश की सरहद पर आने नहीं दे सकता। इससे पहले गोयल ने मंच के माध्यम से भारत माता की जयकारों के साथ देश के सभी वीर जवान शहीदों को श्रद्धांजलि दी और कहा की मेरा सौभाग्य है जो मुझे इस पुण्य कार्य को करने का अवसर मिला, गोयल ने कहा धन्य है वह मां बाप जिनके घर परिवार मैं ऐसी संताने जन्म लेती हैं, जो देश के लिए मर मिटने और माँ भारती की रक्षा करने के लिए सरहद पर जिगर के टुकड़े को भेजते हैं।

मैं ऐसे माता-पिता के श्री चरणों में भी प्रणाम करता हूं। इस मौके पर विधायक नैनपाल रावत ने भी शहीद संदीप सिंह (Shaheed Sandeep Singh) के लिए गांव के लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि संदीप फूटबाल के उम्दा खिलाडी थे और शुरू से ही सैनिक बनकर देश के लिए कुछ करने कि तमन्ना उनके दिल मे थी, उनको जूनून था देश कि रक्षा करने के लिए आर्मी मे जाने का और अपनी इसी बहादुरी और जज्बे से दुश्मनो से लोहा लेते हुए माँ भारती कि रक्षा मे शहीद हुए। रावत ने कहा कि जो खून देश के काम आता है, उसे देश कभी भुला नहीं सकता । देश हमेशा ऐसे वीर सपूतों को हमेशा याद रखेगा।

गोयल ने कहा कि आज लगभग 1 वर्ष बीत जाने के बाद भी ना जाने कितने देश ऐसे हैं जहां पर इस महामारी के विरुद्ध लड़ने के लिए दवा भी नहीं बन पायी है। ऐसे मे हमारे देश का परम सौभाग्य है कि माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में हमारे कुशल वैज्ञानिको ने दवा कि सफल खोज की और आज जगह-जगह कैंप लगाकर कोरोना के विरुद्ध निशुल्क वैक्सीनेशन किया जा रहा है परंतु फिर भी सावधानी सबसे जरूरी है। इस लड़ाई मे सभी को मिलकर सहयोग करना है और सरकार द्वारा बताए गए सभी हिदायतों का पालन करना है ताकि हम्म इस संघर्ष मे विजय प्राप्त कर इस दौर से निकलने मे कामयाब हो। गोयल ने जगह-जगह सरकार द्वारा लगाए जा रहे कैंप मे कोरोना के विरुद्ध निशुल्क वैक्सीनेशन का लाभ लेने का भी आग्रह किया और कहा कि वैक्सीनेशन के लिए दूसरों को भी जागरूक करें, यह पूरणतया सुरक्षित है।

इस मौके पर सरपंच अटाली प्रह्लाद सिंह, मुकेश शास्त्री चेयरमैन पूर्व मार्केट कमेटी, विजय शर्मा, नरेश नंबरदार पार्षद, सुरजीत अद्धाना जिला पार्षद, बाबू इब्राहिम, भोली सरपंच, शैलेश सिंह, मोती सरपंच, निखिल बिसला, ओम प्रकाश भाटी, गढ़खेड़ा सरपंच, विवेक सरपंच, नरियाला, जूनहेड़ा, कुराली, बुखारपुर् व् ज़िला प्रसाशनिक अधिकारी और हजारों लोग मौके पर उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?