deepali chavan mohite

अमरावती: महाराष्ट्र (Maharashtra) के अमरावती (Amravati) में मेलघाट टाइगर रिजर्व (MRT) में तैनात 28 वर्षीय महिला (Deepali Chavan) रेंज वन अधिकारी ने शुक्रवार को आत्महत्या (Suicide) कर ली है |उन्होंने अपने कथित सुसाइड नोट में महिला ने भारतीय वन सेवा (Indian Forest Service) के वरिष्ठ अधिकारी पर सेक्सुअल हैरेसमेंट और टॉचर्र का आरोप लगाया |

सरकारी रिवाल्वर से खुद को मारी गोली

28 वर्षीय RFO दीपाली चव्हाण-मोहिते (Deepali Chavan-Mohite) ने गुरुवार की देर रात अपने सर्विस रिवाल्वर से टाइगर रिजर्व के पास हरिसल गांव में अपने सरकारी क्वार्टर में खुद को गोली मार ली और मौके पर ही दम तोड़ दिया | बंदूक के साथ उनका खून से लथपथ शव बाद में रिश्तेदारों और सहयोगियों द्वारा बरामद किया गया |

deepali chavan mohite

लेडी सिंघम (Deepali Chavan-Mohite) के नाम से थीं प्रसिद्ध

वन माफियाओं के खिलाफ अपनी निडरता के लिए लेडी सिंघम (Lady Singham) के नाम से प्रसिद्ध एक सख्त अधिकारी, दीपाली के पति राजेश मोहिते चिखलधारा में एक ट्रेजरी ऑफिसर के रूप में पोस्टेड हैं, जबकि उनकी मां सतारा गई हुई थीं, जब उन्होंने इस घातक कदम को उठाया |

परिवार ने शव लेने से किया इनकार

दीपाली के परिवार ने चार पन्नों के सुसाइड नोट में नामजद आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किए जाने तक अंतिम संस्कार के लिए उनके शव को लेने से इनकार कर दिया | घटना के बाद वन विभाग में सदमें का माहौल है | जिसके बाद पुलिस ने अमरावती पुलिस, डिप्टी कंजर्वेटर ऑफ फॉरेस्ट (DCF) शिवकुमार को नागपुर रेलवे स्टेशन पर हिरासत में लिया गया | उस वक्त वे बेंगलुरु के लिए एक ट्रेन में सवार होने के लिए इंतजार कर रहे थे | उन्हें आगे की औपचारिकताओं के लिए अमरावती लाया जा रहा है |

विरोध करने पर इस तरह करता था टॉचर्र

गौरतलब है कि पिछले दिनों कई मौकों पर, दीपाली ने शिवकुमार के बारे में अपने वरिष्ठ, MTR फील्ड डायरेक्टर, एम.एस. रेड्डी (RFS) को शिकायत की थी, जिन्होंने कथित तौर पर उनकी दलीलों को नजरअंदाज किया | जिसके बाद दीपाली ने शिवकुमार की शराब पीने की आदतों पर पर प्रकाश डाला था | साथ ही कहा था कि वह सार्वजनिक और निजी तौर पर उनके साथ अभद्र व्यवहार करता था और फीजिकल होने का संकेत देता था | हालांकि, दीपाली ने उसे बार-बार फटकार लगाई, जिसकी कीमत उन्हें कठिन वर्क शेड्यूल, उत्पीड़न और एक महीने की सैलरी को होल्ड करके चुकानी पड़ी |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?