देश में कोरोना वायरस का कहर लगातार जारी है। एक के बाद एक कई दिग्गज राजनीतिज्ञ और सिनेमा से जुड़ी हस्तियां कोरोना की चपेट में आ रही हैं। इसी बीच राजनीतिक गलियारे से एक खबर आई कि बीड़ी किंग नाम से मशहूर पूर्व सांसद श्यामाचरण गुप्ता का कोरोना की चपेट में आने के बाद निधन हो गया। वह दिल्ली के एक अस्पताल में अपनी पत्नी और बेटे के साथ आइसोलेट थे। बताया जा रहा है कि उनकी मौत अस्पताल में हृदय गति रुकने से हुई है। श्यामाचरण गुप्ता की मौत के बाद राजनीतिक एवं व्यापारिक क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई है।

आपको बता दें कि श्यामाचरण गुप्ता प्रदेश के एक जाने-माने बिजनेसमैन और राजनीतिज्ञ थे। उन्होंने 1973 में श्याम समूह की स्थापना की थी जो मुख्यतः बीड़ी का व्यवसाय करती थी। बीड़ी के बड़े व्यापारी होने के कारण श्यामाचरण गुप्ता को देश में बीड़ी किंग के नाम से जाना जाता था।

भाजपा से खेली लंबी राजनीतिक पारी

पूर्व सांसद श्यामाचरण गुप्ता ने अपने राजनीतिक करियर की ज्यादातर पारियां भारतीय जनता पार्टी के ही पाले में रहकर खेली है। हालांकि वह एक बार भाजपा से नाराज होकर समाजवादी पार्टी के पाले में चले गए थे, बाद में उन्होंने फिर से भाजपा का दामन थाम लिया था। 1989 में वह भाजपा से चुनाव लड़कर मेयर बने थे। जिसके बाद 1992 में भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर ही तत्कालीन इलाहाबाद संसदीय क्षेत्र से चुनाव लड़े थे।

जिसके बाद 1994 में उनकी पत्नी जमुनोत्री गुप्ता ने भी भाजपा के टिकट पर इलाहाबाद से मेयर का चुनाव लड़ा था। 2004 के लोकसभा चुनावों में लोकसभा के टिकट को लेकर उनका पार्टी के नेताओं से मनमुटाव हुआ। जिसके बाद उन्होंने समाजवादी पार्टी का दामन थामा और सपा के ही टिकट पर 2004 में बांदा से सांसद चुने गए। 2009 में उन्होंने फिर से लोकसभा का चुनाव लड़ा और फूलपुर क्षेत्र से उन्हें हार का मुंह देखना पड़ा। इसके बाद दोबारा उन्होंने भाजपा की राह पकड़ी और 2014 में भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर उन्होंने इलाहाबाद से समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेता रेवती रमन सिंह को भारी मतों से मात देते हुए जीत दर्ज की थी।

बता दें कि श्यामाचरण गुप्ता की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी, जिसके बाद वह अपनी पत्नी और बेटे के साथ दिल्ली के एक अस्पताल में आइसोलेट थे। जहां ह्रदय गति रुकने से उनकी मौत हो गई। श्यामाचरण गुप्ता की पत्नी जमुनोत्री गुप्ता भी राजनीति में सक्रिय है। इनके दो पुत्र विद्युत अग्रहरी, विभव अग्रहरी और इनकी एक पुत्री वेणु अग्रहरी धींगरा है। बता दें कि श्यामाचरण गुप्ता श्याम ग्रुप ऑफ कंपनीज के संस्थापक एवं सीएमडी थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?