पाकिस्‍तान के पूर्व विकेटकीपर बल्‍लेबाज कामरान अकमल ने कहा कि पिछले कुछ सालों में भारतीय टीम इसलिए अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में सफल हुई क्‍योंकि उसने लाल गेंद क्रिकेट को काफी महत्‍व दिया। भारतीय टीम इस समय आईसीसी टेस्‍ट रैंकिंग में शीर्ष पर है। विराट कोहली के नेतृत्‍व वाली भारतीय टीम 18 जून को साउथैम्‍प्‍टन में विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप के फाइनल में न्‍यूजीलैंड से भिड़ेगी।

पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज ने साथ ही कहा कि क्रिकेट में भारत की सफलता के पीछे काफी हद तक राहुल द्रविड़, वीवीएस लक्ष्मण और अनिल कुंबले जैसे दिग्गज क्रिकेटरों का अहम योगदान रहा है।

कामरान ने कहा, ” टीम इंडिया के माइंडसेट के लिए फुल क्रेडिट। 90 के दशक के सभी भारतीय दिग्गजों को देखें- राहुल द्रविड़ से लेकर अनिल कुंबले से लेकर वीवीएस लक्ष्मण तक- ये सभी किसी न किसी तरह से भारतीय क्रिकेट से जुड़े हैं. इससे नई पीढ़ी को मदद मिल रही है. और यह सिर्फ आईपीएल के लिए नहीं है बल्कि वे घरेलू क्रिकेट पर भी नजर रखते हैं, चाहे वह वीरेंद्र सहवाग हो या युवराज सिंह. उन्होंने (भारत ने) अपना (ब्रांड का) क्रिकेट नहीं बदला है, लेकिन उन्होंने अपने मौजूदा स्तर को ऊंचा किया है.”

अकमल ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा कि भारत की मानसिकता को पूरा श्रेय जाता है. एक ही समय पर दो टीमें खेलेगी. एक इंग्‍लैंड और एक श्रीलंका में. उनकी क्रिकेट संस्‍कृति इतनी मजबूत है कि वे एक ही समय में तीन इंटरनेशनल टीमों को मैदान पर उतार सकते हैं. ऐसा इसीलिए है, क्‍योंकि उन्‍होंने जमीनी स्‍तर पर कोई समझौता नहीं किया है. उन्‍होंने कहा कि बतौर कप्‍तान पहले एमएस धोनी और अब विराट कोहली टीम को शानदार संभाल रहे हैं।

इस बीच, जब विराट रेस्‍ट कर रहे थे तो रोहित शर्मा ने संभाला. उनके पास कप्‍तानी के विकल्‍प देखें. यदि रोहित चोटिल होते हैं, तो उनके पास केएल राहुल हैं. बड़े खिलाड़ी अनुपलब्‍ध होने पर भी वे प्रभावित नहीं होते हैं. फिलहाल बीसीसीआई ने अभी तक श्रीलंका दौरे के लिए टीम का ऐलान नहीं किया है, मगर यह साफ है कि युवा टीम कोच राहुल द्रविड़ के नेतृत्‍व में जाएगी. अकमल को विश्‍वास है कि भारत नियमित खिलाड़ी के बिना ही यह सीरीज जीतेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?