जहाँ प्यार होता है वहाँ पर झगडे भी होते है इसीलिए झगड़ा एक रिश्ते में और होता है वो है गर्लफ्रेंड और बॉयफ्रेंड या पति पत्नी के रिश्ते में इसीलिए जब आपका पार्टनर आपसे लड़ जाता है तब आप उन्हें किस तरह से मनाते है या उन्हें किस तरह से मनाते है | अगर आपको जानकारी नहीं है की जब आपका प्यार आपसे नाराज़ हो जाता है तब आप उन्हें किस तरह से मनाएंगे या उनसे झगड़ा होने पर क्या करेंगे तो इसकी जानकारी हम आपको देते है की आपको क्या करना चाहिए जिससे की आपका पार्टनर आपसे नाराज़ न रहे और आप दोनों का झगड़ा खत्म हो जाये |यह बात हम सभी जानते है कि ऐसे शादी-शुदा जोडों की संख्या तेजी से बढती जा रही है जिनके बीच प्यार की कमी है। जब दो लोग एक साथ जिंदगी गुजारने का फैसला लेते हैं, तो बहुत से एडजस्टमेंट्स करने पडते हैं। अगर वे मानसिक रूप से परिपक्व हैं, तो ये एडजस्टमेंट्स आसानी से करते अपने बंधन को और मजबूत बनाने में सक्षम रहते हैं, साथ ही रोमांटिक लाइफ में उसकी चमक को बनाए रखने के लिए पॉलिशिंग व देखभाल की जरूरत होती है। विवाह भी ऐसी ही है। रोजाना केयर नहीं करेंगे तो जल्दी ही यह पुरानी हो जाएगी।

पार्टनर की अच्छी आदतों को सराहें, लेकिन गलतियों की ओर भी इशारा करें। गुस्से या मुंह बनाने से बात बनती नहीं, बिगडती है। पार्टनर की सच्ची आलोचना व सुझावों को भी स्वीकारें।

जब आपका झगड़ा आपके पार्टनर से हो जाता है तो गलती कही न कही किसी एक साइड की होती है इसीलिए इसीलिए अगर आपको लगता है की गलती है तो आप उनसे माफी मांग सकते है जिससे की आपका झगड़ा ख़त्म हो जाता है |

जब आपका झगड़ा आपके पार्टनर से हो जाता है तो गलती कही न कही किसी एक साइड की होती है इसीलिए इसीलिए अगर आपको लगता है की गलती है तो आप उनसे माफी मांग सकते है जिससे की आपका झगड़ा ख़त्म हो जाता है |

शब्दों में मन की बातें नहीं बता पाते तो हाव-भाव का सहारा लें। बॉडी लैंग्वेज बता देती है कि आप अपने पार्टनर के कितने करीब हैं। एक सहज प्यारी-सी मुस्कान भी वह सब कह देती है, जो हजार शब्द नहीं कह पाते। किसी प्यारी से डेट के बाद उनकी पौकेट में थैंक यू नोट लिख दें। पूर दिन प्यार में गुजरेगा।

सप्ताह में एक दिन-दूजे के हो जाएं। टीवी, कम्प्यूटर, सेलफोन, फेसबुक, ट्विटर की कैद से मुक्त होकर साथ समय बिताएं। कभी किसी लव बड्र्स को देखा है! लगता है, जैसे बातें ही खत्म नहीं होती उनकी। मौन को लाइफ में पसरने दें। शेयरिंग के कुछ पल बेडरूम में बिताए पलों से ज्यादा प्यारे होते हैं।

जब लड़ाई होती है तो अगर आपको पता है की यहाँ गलती आपकी है तो आप अपने पार्टनर के सामने अपनी गलती स्वीकार करे जिससे की आपका पार्टनर का गुस्सा कम हो जायेगा और आपकी लड़ाई ख़त्म हो जाती है |

प्यार एक की नहीं, दोनों की इच्छा व जरूरत है। लेकिन पहले पार्टनर की इच्छा को महत्व दें। दोनों इस नियम का पालन करें तो रिश्ता समझौते पर नहीं, प्यार पर टिकेगा रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?