इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन का कहना है कि उन्हें लगता था कि वह टेस्ट क्रिकेट के लिए बेहतर नहीं हैं। क्रिकबज की रिपोर्ट के अनुसार, एंडरसन न्यूजीलैंड के खिलाफ चल रही दो मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले मैच में खेले थे और अगर उन्हें गुरुवार से यहां शुरू हो रहे दूसरे टेस्ट मैच में खेलाया जाता है तो वह एलिस्टर कूक को पीछे छोड़ इंग्लैंड के लिए सर्वाधिक टेस्ट मैच खेलने वाले खिलाड़ी बन जाएंगे।

एंडरसन ने कहा, “यह 15 साल अभूतपूर्व रहे। यह जानना कि कूक ने जितने मुकाबले खेले हैं, उतने मैं खेल चुका हूं। यह मेरे लिए गर्व की बात है।” एंडरसन ने 18 साल पहले 2003 में लॉर्ड्स में जिम्बाब्वे के खिलाफ खेले गए टेस्ट मैच से अपने टेस्ट करियर की शुरुआत की थी। एंडरसन ने कहा, “मुझे लगता था कि मैं ज्यादा अच्छा नहीं हूं। काउंटी क्रिकेट से काफी बदलाव आया। मुझे याद है नसीर ने मेरे लिए फाइन लेग नहीं रखा था। मेरी पहली गेंद नो बॉल हुई जिसके बाद मैं नर्वस हो गया और मुझे लगा कि अभी मुझे बहुत लंबा सफर तय करना है।”

एंडरसन के नाम टेस्ट में 616 विकेट हैं और वह मुथैया मुरलीधरन (800 विकेट), शेन वार्न (708) और अनिल कुंबले (619) के बाद टेस्ट में सर्वाधिक विकेट लेने वाले दुनिया के चौथे गेंदबाज हैं।

एंडरसन ने कहा, “मुझे सेट होने में कुछ वर्ष लगे। मुझे लगता है कि विश्व की शीर्ष टीम के खिलाफ प्रदर्शन करना मायने रखता है। मैं जिम्बाब्वे का असम्मान नहीं कर रहा लेकिन दक्षिण अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और भारत जैसी टीम के खिलाफ आपको प्रदर्शन करना होता है। जब आप शीर्ष टीमों के खिलाफ प्रदर्शन करने में सफल होते हैं तब आपको लगता है कि आपका स्तर बढ़ा है।”

कोहली और विलियम्सन कप्तानी की जंग को दोहराने के लिए तैयार
टी20 विश्व कप की मेजबानी के लिए भारत की तैयारियों को लेकर चर्चा कर सकता है ICC
आप हमें हमारे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मस FACEBOOKINSTAGRAMTWITTER पर भी फोलो कर सकतें है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?