फिल्म ओए लकी लकी ओए में अभय देओल द्वारा निभाए गए चोर के किरदार का हुबहू अवतरण करने वाले दो चोर जिन्होंने मोटरसाइकिल से कैंटर, बकरी से भैंस तक कुछ नहीं छोड़ा उन्हें अपने कर्मों का हिसाब किताब करने के लिए क्राइम ब्रांच में जेल में छोड़ दिया है।

पुलिस आयुक्त श्री ओ पी सिंह द्वारा चोरी की वारदातों पर लगाम लगाने के लिए शहर में चोरी और लूटपाट की वारदातों को अंजाम देने वालों की नकेल कसने के दिशा निर्देशों के तहत कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच सेक्टर 56 की टीम ने वाहन चोर गैंग का भंडाफोड़ करते हुए गैंग के दो आरोपियों को अवैध हथियार सहित गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

गिरफ्तार किए गए आरोपियों में महेश उर्फ फुद्दू तथा अजय उर्फ अजीत का नाम शामिल है। आरोपी महेश उर्फ फुद्दू तथा अजय उर्फ अजीत दोनों ही राजस्थान जिला भरतपुर के रहने वाले है।दोनों ही आरोपी डीग, भरतपुर राजस्थान के वाहन चोर गैंग के सदस्य है। आरोपी भरतपुर से बस मे सवार होकर चोरी करने के लिए फरीदाबाद में आते थे और वारदात करते समय अपने साथ अवैध हथियार रखते थे ताकि यदि कभी फस जाए तो लोगों में हथियार का खौफ दिखाकर वहां से फरार हो सके।

आरोपी महेश उर्फ फुद्दू चोरी की वारदात को अंजाम देने के मकसद से फरीदाबाद आया था जिसे क्राइम ब्रांच 56 की टीम ने दिनांक 24 जून को गुप्त सूत्रों की सहायता से एक देशी कट्टे व तीन जिन्दा कारतूस सहित काबू करके गिरफ्तार किया था। आरोपी महेश के खिलाफ थाना एसजीएम नगर में अवैध हथियार की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके पूछताछ शुरू की गई जिसमें उसने अपने साथियों के साथ मिलकर फरीदाबाद से चोरी किए गए वाहनों की बात कबूली।

मामले में गहनता से पूछताछ करने के लिए आरोपी महेश को अदालत में पेश करके 5 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया जिसमें उसने अपने साथी आरोपी अजय उर्फ अजीत के बारे में पुलिस को सूचना दी जिसके आधार पर दिनांक 29 जून को आरोपी अजय उर्फ अजीत को भी राजस्थान के उसके गांव से गिरफ्तार कर लिया गया।

वाहन चोरी की वारदातों में इन दो आरोपियों के अलावा इनका एक तीसरा साथी राहुल भी शामिल है जो कि फरीदाबाद का ही रहने वाला है और पुलिस से बचने के लिए अभी फरार चल रहा है। तीनों आरोपी आपस में रिश्तेदार हैं। तीनों आरोपी बहुत ही शातिर किस्म के चोर हैं जो वाहन चोरी करने से पहले उसकी रेकी करते हैं तथा मौका मिलते ही वाहन को गायब कर देते हैं। आरोपी स्कूटर, मोटरसाइकिल, कार, कैंटर, ट्रेक्टर, भेड़, बकरी, सूअर, भैंस कुछ भी नहीं छोड़ते थे जो हाथ लगता था सब चोरी कर लेते थे।

इनका तीसरा साथी राहुल चूंकि फरीदाबाद का ही रहने वाला है तो उसे यहां की गली चौराहों के बारे में सारी जानकारी है जो वाहन चोरी करने के पश्चात इसके साथियों को वहां से भगाने में मदद करता है। चोरी करने के पश्चात दोनों आरोपी वाहनों को सीधा राजस्थान ले जाते परंतु लोकडाउन की वजह से वह उन्हें बेचने में कामयाब नहीं हुए।

आरोपी महेश तथा अजय आदतन अपराधी हैं जो नशा करने के आदि है तथा चोरी के मुकदमा में कई बार जेल जा चुके हैं। इससे पहले भी वर्ष 2016 में इन दोनों आरोपियों के कब्जे से 26 मोटरसाइकिल बरामद हुई थी जिनमें यह राजस्थान की जेल में सजा काट चुके हैं। उक्त दोनों आरोपियों के खिलाफ फरीदाबाद के विभिन्न थानों में चोरी तथा अवैध हथियार के 11 मुकदमे दर्ज हैं जिसमें इनके के कब्जे से 4 ट्रैक्टर,4 मोटरसाइकिल, 1 कैंटर व 1 ऑटो राजस्थान से बरामद किए गए। पूछताछ पूरी होने के पश्चात दोनों आरोपियों को आज अदालत में दोबारा पेश करके जेल भेज दिया गया है तथा इनके तीसरे साथी राहुल की जल्द तलाश करके गिरफ्तारी की जाएगी।

आप हमें हमारे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मस FACEBOOKINSTAGRAMTWITTER पर भी फोलो कर सकतें है।

लापता लड़की को पुलिस ने बदरपुर बॉर्डर से किया बरामद, परिजनों ने पुलिस टीम का

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?