रविवार को अपराध शाखा एनआईटी तथा सुरजकुंड थाना के संयुक्त ऑपरेशन से थाना क्षेत्र में पिछले माह हुए 11 लाख और जेवरात की चोरी का आरोपी अंकुर अन्य तीन के साथ गिरफ्तार किया गया। घटना जून 2021 में तब कि है जब सुरजकुंड थानाक्षेत्र में रहनेवाले एक व्यक्ति को कोरोना के कारण अस्पताल में भर्ती होना पड़ा। कोविड से पीड़ित व्यक्ति ने अपने दोस्त अंकुर पर भरोसा करके अपने घर की जिम्मेवारी छोड़ दी थी।

अचानक एक दिन दोस्त की नियत बिगड़ी और उसने कोविडग्रस्त दोस्त संजय निवासी सूरजकुंड एरिया, जो अस्पताल में भर्ती था, के घर से 11 लाख रूपये और सोने के जेवरात चोरी कर ली। मामला सुरजकुंड थाना में अंकित होते हुए अपराध शाखा एनआईटी के पास पहुँचा। क्राइम ब्रांच एनआईटी और सुरजकुंड थाना प्रभारी ने उच्चाधिकारियों के साथ तालमेल बनाते हुए आगे की कार्रवाई की रणनीति बनाई और उस पर अमल करते हुए दिल्ली से एक महिला समेत चार आरोपी को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है।

गिरफ्तारी के क्रम में पुलिस ने आरोपियों के पास से चोरी के 11 लाख रूपये, एक सोने की चेन तथा एक मोबाईल बरामद किया है। गिरफ्तार आरोपियों का नाम अंकुर, राजीव उर्फ सनी तथा लखविंदर उर्फ लकी है। इसके अलावा पुलिस ने आरोपी अंकुर की मां को भी गिरफ्तार किया है। चोरी के बाद सभी आरोपी पुलिस की गिरफ्तारी से बचने के लिए इधर-उधर भागे फिर रहे थे।

पुलिस ने घटना के संबंध में जाँच के बिन्दु निर्धारित कर आरोपियों से पूछताछ शुरू की। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने अपराध में संलिप्तता की बात स्वीकारते हुए बताया कि मुख्य आरोपी अंकुर जुआ और अय्याशी के कारण काफी कर्ज में डूबा हुआ था। जिनलोगों से अंकुर ने उधार लिये थे, वे लोग बार-बार घर आकर पैसा वापस करने को कहते थे। तभी अंकुर ने अपने दोस्त संग मिलकर चोरी की योजना बनाई और अपने दोस्त के घर और तिजोरी की दूसरी चाबी बनवा ली।

एक दिन आरोपी अंकुर अपनी माँ को पीड़ित दोस्त की माँ के पास उसके घर यह कहकर छोड़ आया कि वह दोस्त के वृद्धा माँ की सेवा करेगी। किन्तु, अवसर पाते ही अंकुर ने साथियों सनी व लकी संग मिलकर अपने ही दोस्त के घर से लाखों रूपये और जेवरात उड़ा लिये।
पुलिस ने पूछताछ के साथ आगे की प्रक्रिया पूरी करते हुए चारों आरोपियों को न्यायालय में प्रस्तुत किया, जहाँ से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।

पुलिस ने 8 घंटे के अंदर गुमशुदा लड़की को तलाश कर स्वजनों को सौंपा

आप हमें हमारे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मस FACEBOOKINSTAGRAMTWITTER पर भी फोलो कर सकतें है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?