दुनियाभर में विभिन्न लोगों के फोन हैक करने के लिए कथित तौर पर इस्तेमाल किए जाने वाले शक्तिशाली जासूसी सॉफ्टवेयर के निर्माता का कहना है कि कंपनी को दोष देना एक कार निमार्ता की आलोचना करने जैसा है, जब एक चालक नशे में दुर्घटनाग्रस्त हो जाता है। बीबीसी की रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है।

एनएसओ के एक प्रवक्ता ने बीबीसी से कहा, अगर मैं कार का निर्माता हूं और अब आप कार लेते हैं और आप नशे में गाड़ी चला रहे हैं और आप किसी को टक्कर मारते हैं, तो आप कार निर्माता के पास नहीं जाते, आप ड्राइवर के पास जाते हैं। उन्होंने कहा, हम सरकारों को सिस्टम भेज रहे हैं। हम सभी सही मान्यता प्राप्त करते हैं और यह सब कानूनी रूप से करते हैं।

प्रवक्ता ने कहा, आप जानते हैं, अगर कोई ग्राहक सिस्टम का दुरुपयोग करने का फैसला करता है, तो वह अब हमारा ग्राहक नहीं रहेगा। उन्होंने कहा, लेकिन सभी आरोप और सारी उंगलियां ग्राहक पर उठाई जानी चाहिए। एनएसओ समूह को तब से अंतर्राष्ट्रीय आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है, जब से पत्रकारों को एक्टिविस्ट, राजनेताओं और पत्रकारों सहित स्पाइवेयर के लिए कथित संभावित लक्ष्यों की एक सूची प्राप्त की है। 50,000 फोन नंबरों की सूची में हैक किए गए कुछ फोन नंबरों की जांच शुरू हो गई है।

पेगासस आईफोन और एंड्रॉएड उपकरणों को संक्रमित करता है, जिससे ऑपरेटरों को संदेश, फोटो और ईमेल निकालने, कॉल रिकॉर्ड करने और माइक्रोफोन एवं कैमरों को गुप्त रूप से सक्रिय करने की अनुमति मिलती है। इजरायल की इस कंपनी का कहना है कि इसका सॉफ्टवेयर अपराधियों और आतंकवादियों के खिलाफ उपयोग के लिए है और अच्छे मानवाधिकार रिकॉर्ड वाले देशों से केवल सैन्य, कानून प्रवर्तन और खुफिया एजेंसियों के लिए उपलब्ध कराया गया है।

लेकिन फ्रांसीसी मीडिया आउटलेट फॉरबिडन स्टोरीज के नेतृत्व में समाचार संगठनों के एक संघ ने सूची के आधार पर दर्जनों कहानियां प्रकाशित की हैं। एनएसओ समूह ने कहा कि उसे बताया गया था कि सूची उसके साइप्रस सर्वर से हैक की गई है। लेकिन कंपनी के एक प्रवक्ता ने बीबीसी न्यूज को बताया, सबसे पहली बात तो यह कि हमारे पास साइप्रस में सर्वर नहीं हैं। और दूसरी बात यह है कि हमारे पास हमारे ग्राहकों का कोई डेटा नहीं है।

और इससे भी अधिक यह बात है कि ग्राहक एक-दूसरे से संबंधित नहीं हैं, क्योंकि प्रत्येक ग्राहक अलग है। तो फिर कहीं भी इस तरह की सूची नहीं होनी चाहिए। प्रवक्ता के अनुसार, संभावित लक्ष्यों की संख्या पेगासस के काम करने के तरीके को प्रतिबिंबित नहीं करती है। यह एक विक्षिप्त संख्या है। हमारे ग्राहकों के पास एक वर्ष में औसतन 100 लक्ष्य हैं।

कंपनी की शुरूआत के बाद से, हमारे पास कुल 50,000 लक्ष्य नहीं थे। जिन लोगों के नंबर सूची में हैं, उनमें से 67 फॉरबिडन स्टोरीज को अपने फोन फॉरेंसिक विश्लेषण के लिए देने पर सहमत हुए हैं। इसके अलावा एमनेस्टी इंटरनेशनल सिक्योरिटी लैब्स द्वारा किए गए इस शोध में कथित तौर पर उनमें से 37 पर पेगासस द्वारा संभावित लक्ष्यीकरण के प्रमाण मिले हैं। लेकिन एनएसओ ग्रुप ने कहा कि उसे इस बात की कोई जानकारी नहीं है कि सूची के कुछ फोन में स्पाइवेयर के अवशेष कैसे हैं। प्रवक्ता ने कहा कि यह एक संयोग हो सकता है।

सरकार नही, वायरस है असली दुश्मन : हरदीप पुरी
आप हमें हमारे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मस FACEBOOKINSTAGRAMTWITTER पर भी फोलो कर सकतें है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?