लिस आयुक्त श्री ओपी सिंह ने अपराधों पर लगाम लगाने के लिए वारदातों में शामिल अपराधियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने के निर्देशों के तहत क्राइम ब्रांच ऊंचागांव तथा 65 को बल्लभगढ़ जॉन को कार्यभार सौंपा गया था जिसमें दोनों क्राइम ब्रांच यूनिट ने क्राइम कंट्रोल करने की दिशा में बेहतरीन कार्य किया है।

इस वर्ष के आंकड़ों की बात करें तो क्राइम ब्रांच ऊंचागांव तथा अपराध शाखा 65 ने चोरी तथा स्नैचिंग की वारदातों में शामिल टोटल 188 आरोपियों को गिरफ्तार किया है जिसमें 94 आरोपी क्राइम ब्रांच ऊंचागांव तथा 94 आरोपी क्राइम ब्रांच 65 के द्वारा गिरफ्तार किए गए हैं।

वाहन चोरी के मामलों में क्राइम ब्रांच ऊंचागांव में 61 आरोपियों को गिरफ्तार करते हुए 52 वाहन बरामद किए वहीं क्राइम ब्रांच 65 ने 57 आरोपियों को गिरफ्तार किया जिसमे 29 वाहन तथा 74000 रुपए कैश बरामद किए गए।

स्नैचिंग की आंकड़ों की बात की जाए तो क्राइम ब्रांच ऊंचागांव ने छीना झपटी करने वाले आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करते हुए 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया वहीं क्राइम ब्रांच 65 ने 11 आरोपियों को जेल की सलाखों के पीछे भेजा।

गृह भेदन के मामलों में क्राइम ब्रांच ऊंचा गांव तथा 65 दोनों ने 13–13 आरोपियों को गिरफ्तार किया वहीं सामान्य चोरी के मामलों में क्राइम ब्रांच ऊंचा गांव ने 12 आरोपियों को गिरफ्तार करके 28000 रुपए नगद तथा क्राइम ब्रांच 65 ने 13 आरोपियों को जेल की हवा खिलाते हुए 2 लाख रुपए बरामद किए। इस वर्ष बल्लबगढ़ जॉन में अवैध नशा, अवैध शराब, जुआ तथा अवैध हथियार इत्यादि कारोबार से जुड़े 453 आरोपियों को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेजा गया है।

इस वर्ष तथा पिछले वर्ष जनवरी से जून तक के आंकड़ों में की गई तुलना में बल्लभगढ़ जॉन के अंदर इस वर्ष क्राइम ब्रांच की टीम ने पिछले वर्ष के मुकाबले अवैध नशा, जुए, शराब तथा अवैध हथियार के मामलों में गिरफ्तार किए गए आरोपियों की संख्या बहुत अधिक है।

नशे के विरुद्ध पुलिस आयुक्त द्वारा चलाए गए अभियान में बल्लभगढ़ जॉन की क्राइम ब्रांच ने पिछले वर्ष एनडीपीएस की धाराओं के तहत दर्ज किए गए 6 मुकदमों के मुकाबले इस वर्ष 34 मुकदमे दर्ज किए हैं जोकि पिछले वर्ष के मुकाबले 467% अधिक हैं।

अवैध हथियार की बात करें तो पिछले वर्ष क्राइम ब्रांच ने जहां 34 अपराधियों को अवैध हथियार सहित गिरफ्तार किया था वही इस वर्ष अब तक 84 दोषियों को गिरफ्तार किया जा चुका है जोकि पिछले वर्ष के मुकाबले 147% अधिक है।

जुआ अधिनियम के तहत दर्ज किए गए मुकदमों की संख्या पिछले वर्ष के मुकाबले 78% अधिक है जिसमें पिछले वर्ष 59 मुकदमे दर्ज किए गए थे वहीं इस वर्ष 105 मुकदमे दर्ज किए गए हैं। अवैध शराब पर लगाम लगाने के दृष्टिकोण से इस वर्ष एक्साइज एक्ट की धाराओं के तहत पिछले वर्ष के 137 मुकदमों के मुकाबले इस वर्ष 230 मुकदमे दर्ज किए गए जो कि पिछले वर्ष से 68% अधिक है।

क्राइम ब्रांच की टीम अपराधों पर लगाम कसने के लिए सक्रिय रुप से कार्य करते हुए कड़ी मशक्कत के साथ अधिक से अधिक आरोपियों को गिरफ्तार किया है ताकि अपराध में संलिप्त आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जा सके जिससे उन्हें सबक मिले और वह अपनी उर्जा को सकारात्मक दिशा में लगाकर एक अच्छे समाज के निर्माण में अपना योगदान दें।

नाबालिक लड़की को बहला-फुसलाकर अगवा करने वाले आरोपी को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार
आप हमें हमारे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मस FACEBOOKINSTAGRAMTWITTER पर भी फोलो कर सकतें है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?