मान्यता है कि मां लक्ष्मी का जन्म समुद्र से हुआ था और इनकी पूजा से धन व वैभव की प्रप्ति होती है। ऐसा कहा जाता है कि अगर किसी घर से लक्ष्मी नाराज हो जाएं, तो वहां बहुत सी परेशानियां आ जाती हैं। ज्योतिष में लक्ष्मी जी का संबंध शुक्र ग्रह से भी माना जाता है।

ऐसे करें पूजा

अगर आपको बिजनेस में नुकसान हो रहा है, तो शुक्रवार के दिन आप अपने काम की जगह पर लक्ष्मी जी, गणेश जी और विष्णु जी की स्थापना करें। ध्यान रखें कि लक्ष्मी जी के दाहिनी तरफ विष्णु जी और बाईं ओर गणेश जी को स्थापित करें।

2. बिजनेस में फायदे के लिए रोज काम शुरू करने से पहले जहां लक्ष्मी जी, गणेश जी और विष्णु जी की स्थापना की है, वहां गुलाब का फूल चढाएं और घी का दीपक तथा गुलाब का सुगंधित धूप जलाएं।

3. नौकरी में तरक्की पाने के लिए शुक्रवार के दिन पूजा की जगह पर कमल के फूल पर बैठी हुई लक्ष्मी जी की फोटो स्थापित करें। फिर शाम के वक्त घी का दीपक जलाएं। मां लक्ष्मी को शंख, कौड़ी, कमल का फूल, मखाने, बताशे, खीर और इत्र अर्पित करें।

4. शुक्रवार के दिन सुबह के वक्त घर के मेन गेट पर रंगोली बनाएं और गंगा जल का छिड़काव करें, साथ ही केसर से स्वास्तिक बनाएं। ऐसा करने से घर में नकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश नहीं हो पाता और परिवार में सुख-समृद्धि बनी रहती है।

5. अगर आपको धन प्राप्ति में किसी तरह की कोई दिक्कत आ रही है, तो शुक्ल पक्ष के पहले शुक्रवार को केसर का तिलक माथे पर लगाना चाहिए। इससे सभी दिक्कतें समाप्त हो जाती हैं।

सावधानियां

1.  मां लक्ष्मी की पूजा सफेद या गुलाबी कपड़े पहन कर ही करनी चाहिए।

2. मां लक्ष्मी की पूजा के लिए सबसे अच्छा वक्त शाम का समय और आधी रात का वक्त बताया गया है।

3. मां लक्ष्मी की उसी तस्वीर या मूर्ती की पूजा करनी चाहिए, जिसमें वो गुलाबी कमल के फूल पर बैठी हों और उनके हाथों से धन बरस रहा हो।

4. मां लक्ष्मी के मंत्रों का जाप स्फटिक की माला से करने पर वह तुरंत प्रभावशाली होता है।

नवरात्रि व्रत के होते हैं कुछ खास नियम, गलती से भी ना करें ये काम

आप हमें हमारे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मस FACEBOOKINSTAGRAMTWITTER पर भी फोलो कर सकतें है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?