14–15 अगस्त की रात गनपॉइंट पर शराब ठेकेदार से की गई लूट के मामले में क्राइम ब्रांच ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए आरोपियों में सुंदर तथा सोनू का नाम शामिल है। सुंदर फरीदाबाद के गांव छांयसा तथा आरोपी सोनू पलवल का रहने वाला है

आरोपियों के खिलाफ थाना छांयसा में दिनांक 15 अगस्त 2021 को दो मुकदमे दर्ज हुए जिसमें पहले आरोपियों ने अपने ही गांव के रहने वाले राजेश के साथ मारपीट की और बाद में आरोपियों ने अपने दो अन्य साथियों श्याम तथा सोनू के साथ मिलकर मोहना गांव के रहने वाले शराब ठेकेदार से गनपॉइंट पर लूटपाट की थी। इस मामले में कुल चार आरोपी है जिसमें आरोपी सुंदर, सुंदर का भाई सोनू, सुंदर के ताऊ का लड़का श्याम तथा सुंदर का दोस्त सोनू शामिल है।

पुलिस को दी अपनी शिकायत में पीड़ित ठेकेदार नरेंद्र ने बताया कि वह मोहना गांव का रहने वाला है और बागपुर में शराब का ठेका चलाता है। दिनांक 14–15 अगस्त को अपना ठेका बंद करके वह अपने दोस्त सतबीर के साथ वैगनार गाड़ी में बैठ कर रात्रि 12:00 बजे जब मोहना यमुना पुल के पास पहुंचे तो वहां पर एक मोटरसाइकिल के पास चार लड़के खड़े हुए थे। उन्होंने अपनी मोटरसाइकिल नरेंद्र की गाड़ी के आगे लगाकर रुकवाली। दो आरोपी ड्राइवर साइड और दो आरोपी कंडक्टर साइड की तरफ आए और जबरदस्ती उनकी गाड़ी की खिड़की खुलवा ली।

खिड़की खुलते ही एक बदमाश ने ठेकेदार नरेंद्र की ओर इशारा करते हुए कहा कि सुंदर इसको गोली मार दे। उसके कहने पर बदमाश ने तुरंत नरेंद्र पर गोली चला दी लेकिन उसका निशाना चूक गया। इसके बाद बदमाश ने नरेंद्र के माथे पर पिस्टल का बट मारा और बाकी तीन अन्य आरोपियों ने उसे लात घुसा मारने शुरू कर दिए।

नरेंद्र के साथी सतबीर ने जब उनका विरोध किया तो आरोपियों ने उसपर भी हमला कर दिया। बदमाशों ने पीड़ित नरेंद्र की जेब में रखे 10 हजार रुपए निकाल लिया और फिर गोली मारने की धमकी देकर कार से बाहर निकाल दिया और आरोपी पीड़ित ठेकेदार की गाड़ी लेकर मौके से फरार हो गए।

वारदात के पश्चात शराब ठेकेदार ने जैसे तैसे अपने दोस्तों को फोन करके मौके पर बुलाया और उसके दोस्तों ने पीड़ित नरेंद्र और सतबीर को सरकारी अस्पताल पहुंचाया। पीड़ित की शिकायत पर थाने में अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके मामले की जांच शुरू की गई। इस मामले में तुरंत संज्ञान लेते हुए पुलिस आयुक्त श्री ओपी सिंह ने जल्द से जल्द आरोपियों की धरपकड़ के निर्देश दिए जिसके तहत कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच 65 प्रभारी रविंद्र सिंह की टीम ने आरोपी सुंदर तथा सोनू को दिनांक 16 अगस्त को हरिद्वार से गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी सुंदर गांव नहरवाली का रहने वाला है। आरोपी का एक पैर बिलकुल खत्म हो चुका है और शरीर पर कई जगह ऑपरेशन हो चुके है। इससे पहले भी वह हत्या और लूट के मुकदमे में जेल जा चुका है। आरोपी सुंदर ने शराब ठेकेदार से लूटपाट से पहले अपने भाई सोनू व अन्य दोनो साथियों के साथ मिलकर अपने ही गांव के रहने वाले राजेश के साथ मारपीट की थी।

पीड़ित राजेश ने पुलिस को बताया कि वह रात 11:30 बजे जब अपने गांव से अटाली रोड पर जा रहा था तो चारों आरोपी एक मोटरसाइकिल लेकर रास्ते में खड़े हुए थे। आरोपी सुंदर ने उसकी मोटरसाइकिल जबरदस्ती रुकवाली और उसके साथ गाली गलौज करते हुए उसे भला-बुरा कहा।

आरोपी ने कहा कि राजेश तूने मुझे 10 साल की सजा करवाई थी। आज वह फंसा है और आज वह अपना सारा हिसाब किताब उसके साथ पूरा कर लेगा। इतना कहते ही उसने अपने हाथ में ली हुई पिस्टल का बट पीड़ित राजेश की आंख पर मारा। दूसरे आरोपी ने रोड के साथ राजेश के सिर पर वार किया और अन्य दो आरोपियों ने उसे धक्का देकर सड़क पर गिरा दिया। आरोपी सुंदर ने अपनी पिस्टल के बट से राजेश के सिर, आंख, मुंह और नाक पर कई वार किए और अन्य साथियों ने भी लात घूंसों मारे।

मारपीट के कारण राजेश खून से लथपथ होने के बाद बेहोश हो गया। जिसके बाद आरोपियों ने राजेश को मरा हुआ समझकर सड़क के साइड में खेतों के अंदर फेंक दिया। पीड़ित राजेश के लड़के ने राजेश को सर्वोदय अस्पताल में भर्ती करवाया जहां पर उसका इलाज चल रहा था।

उसके पश्चात आरोपियों ने बागपुर की तरफ भागते समय मोहना गांव में यमुना पुल के पास देसी कट्टे की नोक पर शराब ठेकेदार नरेंद्र की वैगनार गाड़ी लूट ली थी। आरोपियों के कब्जे से शराब ठेकेदार से लूट गए वैगनार गाड़ी तथा वारदात में प्रयोग एक देसी कट्टा बरामद किया गया है। पूछताछ पूरी होने के पश्चात दोनों आरोपियों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है तथा इस मामले में फरार चल रहे दोनों आरोपियों को पुलिस द्वारा जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

चोरी की वारदात में शामिल दो आरोपियों को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार

आप हमें हमारे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मस FACEBOOKINSTAGRAMTWITTER पर भी फोलो कर सकतें है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?