आज सुबह बस स्टैंड पाली चौक, बस स्टैंड पर सड़क पर बहते हुए बारिश के पानी में एक मोटरकार जिसे महिला विधयावती मोहना चला रही थी जो अचानक बन्द हो गई। जिसके कारण सड़क पर यातायात गंभीर रुप से बाधित गया। बस स्टैंड चौकी प्रभारी उमेश कुमार उनकी टीम सहायक उप निरीक्षक सतपाल, मुख्य सिपाही राकेश और सिपाही चेती लाल ने बस स्टैंड के सभी चौकों को सभालते हुए यातायात को कन्ट्रोल किया। वहां मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने गाड़ी को स्वयं धक्का देकर पानी से बाहर निकाला। तब जाकर वाहनों की आवाजाही सामान्य हो सकी।

इसके साथ ही पुलिस चौकी सैक्टर-11 में एक सूचना प्राप्त हुई कि एक बुजुर्ग उम्र करीब 60 साल जिसकी गाडी नम्बर एच आर 51 बी वी 9286 एक गढ्ढे फस गई है। जिस पर तुरन्त कार्रवाई करते हुए क्रेन की मदद से गाडी बाहर निकालकर बुजुर्ग व्यक्ति को फारिक किया जिसपर उसने तह दिल से धन्यवाद किया।

पूरे भारत में लगातार बारिश के बाद अब दिल्ली एनसीआर में भी मानसूनी बारिश के कारण आमजनों को यातायात की चुनौतियों का सामना करना पड रहा है। जिसको सज्ञांन में लेते हुए पुलिस कमिश्नर श्री ओपी सिंह ने जन हित में एडवाइजरी जारी की है- दो पहिया वाहन चालकों को बारिश के दौरान अंडर पास के नीचे खड़े नही होना चाहिए । तेज बारिश में मोटरकार, दोपहिया और तिपहिया वाहनों की गति सामन्य होनी चाहिए।

अन्यथा, पहियों का नियंत्रण खोने के कारण बडे वाहनों की चपेट में आने से किसी बड़ी दुर्घटना की प्रबल संभावना हो सकती है। घर से निकलने से पहले अपने वाहनो के कल-पूर्जे के सही काम करने की स्थिति जांच लेनी चाहिए। जिसमें मोटरकारों की ब्रेक अच्छी तरह काम करना महत्वपूर्ण है।

लोगों को सावधानी रखते हुए सड़क पर बहते पानी वाले स्थान पर गाड़ी धीमी गति में चलाना चाहिए। ताकि सड़क पर साथ चल रहे अन्य वाहनों को किसी भी प्रकार की असुविधा ना हो।

कई स्थानो पर बारिश के कारण उफनते नालों का गंदा पानी सड़क पर जमा हो जाता है। जिसके कारण वाहन चालकों को सड़क पर उपस्थित गड्ढे दिखाई नही देते हैं और वे अपना नियंत्रण खोकर दुर्घटना के शिकार हो जाते हैं। इससे बचने के लिए लोगों को चाहिए कि वे बारिश के मौसम में यातायात पुलिस द्वारा निर्धारित मानक रुट पर चलें।

परिजनों को बिना बताये घर से निकली युवती, 11 दिन बाद दतिया झांसी मध्य प्रदेश से बरामद

आप हमें हमारे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मस FACEBOOKINSTAGRAMTWITTER पर भी फोलो कर सकतें है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?