पुलिस आयुक्त श्री ओपी सिंह के मार्गदर्शन में कार्य करते हुए फरीदाबाद पुलिस नागरिकों की मदद करने में कभी पीछे नहीं रहती। पुलिस कमिश्नर अपने अधीनस्थ पुलिस कर्मचारियों को अपराधिक गतिविधियों पर अंकुश लगाने के साथ-साथ छोटी छोटी बातों से परेशान लोगों की समस्याओं को सुलझाने, किसी के घरेलू झगड़े निपटाने एवं सामाजिक कार्य में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने के लिए प्रेरित करते रहते हैं।

उन्ही के प्रयासों का परिणाम है कि लोगों को पुलिस पर इतना विश्वास हो गया है कि घर से किसी की पत्नी घर से रूठकर चली जाए तो उसे मनाकर वापिस लाने की जिम्मेवारी भी फरीदाबाद पुलिस को दे दी जाती है।

इसी क्रम में सेक्टर-7 थानाक्षेत्र के एक व्यक्ति ने पुलिस को लिखित शिकायत दी कि उसकी 33 वर्षीय पत्नी रूठ कर गुस्से में बिना बताये कहीं चली गयी है और 8 वर्षीय और 3 वर्षीय दोनों बच्चियों को घर में अकेली ही छोड़ गयी है। उसने ढुढ़ने का काफी प्रयास किया किंतु, वह कहीं नहीं मिली। उसने पुलिस से उसकी पत्नी को मनाकर वापिस लाने का आग्रह किया।

पुलिस ने शिकायत प्राप्त होते ही पुलिस टीम गठित कर महिला की तलाश के लिए रवाना कर दिया। पुलिस टीम ने आसपास के क्षेत्र में महिला के बारे में पूछताछ की परंतु उनको उसकी कोई खबर नहीं मिली। पुलिस को सूत्रों के माध्यम से महिला का चंडीगढ़ में होने की सूचना प्राप्त हुई।

सूचना प्राप्त होते ही महिला की बरामदगी के लिए पुलिस टीम चंडीगढ़ के लिए प्रस्थान कर गयी और कड़ी कोशिशों के बाद चंडीगढ़ सेक्टर-43 के बस पड़ाव से बरामद कर लिया। महिला ने अपने पति से रूठने और गुस्सा होने का कारण बताते हुए वापस नहीं आने की बात पुलिस से कही। किन्तु, पुलिस के समझाने-बुझाने पर महिला मान गई और वापस फरीदाबाद अपने परिवार के पास आने को सहमत हो गई।

पुलिस उक्त महिला को अपनी सुरक्षा में लेकर सेक्टर-7 थाना पहुँची और उसके पति को भी थाना बुलाया गया। दोनों अबोध बच्चियाँ अपनी माँ को देखकर भावुक हो रोने लगी। थाना में पति-पत्नी के बीच की गलतफहमियों को समाप्त करते हुए विधि-सम्मत प्रक्रिया पूरी की गई। पुलिस ने शिकायतकर्ता पति को उसकी पत्नी सुरक्षित सौंप दी। पति ने पुलिस टीम का शुक्रिया कहा और उनका आभार जताया।

डिप्रेशन में चल रही 50 वर्षीय महिला को पुलिस ने पहुँचाया उनके आशियाने

आप हमें हमारे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मस FACEBOOKINSTAGRAMTWITTER पर भी फोलो कर सकतें है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?