किसानों द्वारा भारत बंद का आह्वान किए जाने के बीच दिल्ली में स्कूल व विश्वविद्यालय खुले रहे। जहां विश्वविद्यालयों में पहले की तरह सीमित संख्या में छात्रों को कैंपस में आने की अनुमति थी, वहीं स्कूलों में भी कोरोना प्रोटोकॉल के तहत निर्धारित गतिविधियां सामान्य रूप से हुईं। गोल मार्केट स्थित केंद्रीय विद्यालय के छात्र अयान ने बताया कि उन्हे अपनी वर्कशीट व पुस्तकें स्कूल में जमा करानी थी। इस कार्य के लिए अयान अपने पिता शाहिद के साथ सोमवार दोपहर स्कूल पहुंचे। यहां उन्होंने अपनी अभ्यास पुस्तिकाएं स्कूल में जमा करवाई।

जेएनयू की छात्रा नूपुर ने बताया कि विश्वविद्यालय में पीएचडी के शोध कार्य को मंजूरी मिल गई है। इसके अंतर्गत सोमवार को रिसर्च कार्य से जुड़े छात्र विश्वविद्यालय परिसर में मौजूद रहे और प्रयोगशाला में अपना काम किया। उधर देशभर के कई राज्यों में दिल्ली विश्वविद्यालय की प्रवेश परीक्षाएं भी आरंभ हो गई हैं। प्रवेश परीक्षा दिल्ली-एनसीआर समेत 27 शहरों के परीक्षा केंद्रों पर आयोजित की जा रही है। यह प्रवेश परीक्षाएं पोस्ट ग्रेजुएट एमफिल और पीएचडी पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए यह परीक्षा आयोजित की जा रही है।

पोस्ट ग्रेजुएट एमफिल और पीएचडी पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए यह परीक्षा आयोजित की जा रही है। 26 और 27 सितंबर के बाद 28, 29 व 30 सितंबर और एक अक्टूब को भी जारी रहेंगी। प्रवेश परीक्षा दिल्ली-एनसीआर समेत 27 शहरों के परीक्षा केंद्रों पर आयोजित की जा रही हैं। दिल्ली विश्वविद्यालय में नए फस्र्ट ईयर के दाखिले 4 अक्टूबर से शुरू किए जाएंगे। विश्वविद्यालय के कार्यकारी कुलपति पीसी जोशी के मुताबिक दिल्ली विश्वविद्यालय के कॉलेजों में 1 अक्टूबर को पहली कट ऑफ जारी की जा सकती है। जहां 1 अक्टूबर को पहली कट ऑफ लिस्ट जारी कर दी जाएगी, वहीं 2 और 3 अक्टूबर को सार्वजनिक अवकाश होने के कारण प्रवेश प्रक्रिया 4 अक्टूबर से शुरू होगी।

गौरतलब है कि दिल्ली विश्वविद्यालय समेत अन्य विश्वविद्यालयों में पीजी- यूजी प्रवेश के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। इस साल दिल्ली विश्वविद्यालय पीजी कोर्स में प्रत्येक सीट के लिए औसतन 9 छात्रों ने आवेदन किया है। दिल्ली विश्वविद्यालय में विभिन्न स्नातकोत्तर कार्यक्रमों में लगभग 20,000 सीटें हैं, लेकिन इन पाठ्यक्रमों में करीब 1.80 लाख छात्रों ने आवेदन किया है। वहीं ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों के लिए लाखों छात्रों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है।

हरियाणा में 20 सितंबर से कक्षा 1 से 3 के लिए फिर से खुलेंगे स्कूल

आप हमें हमारे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मस FACEBOOKINSTAGRAMTWITTER पर भी फोलो कर सकतें है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

Powered by WhatsApp Chat

× How can I help you?